सुबह से रो रहे हैं हनुमान जी, आंख से बह रहे हैं आंसू, देखें

इलाहाबाद. शहर के मीरगंज मोहल्ले में स्थित सराफा मंडी हनुमान जी मंदिर पर शनिवार सुबह से भक्तों की भीड़ लगी है। आज कोई त्योहार या व्रत नहीं, फिर भी इस छोटे से मंदिर में पैर रखने की जगह तक नहीं है। दरअसल यहां सुबह से ही हनुमान की मूर्ति आंसुओं से भीगी है।

 पुजारी राम भवन पांडे ने डेली रूटीन की तरह हनुमान की मूर्ति पर सिंदूर लगाया और उन्हें वस्त्र पहनाए।
जैसे ही वे फूल चढ़ाने लगे, उन्हें हनुमान जी की राइट आंख से आंसू टपकते दिखे।
पहले उन्हें लगा कि फूलों पर से गिरा पानी है।
कुछ देर बाद जब हनुमान जी को पहनाए वस्त्र भीग गए तो उन्होंने मूर्ति को गौर से देखा।
हनुमान जी की आंख से आंसू निकल रहे हैं।
जैसे ही यह खबर आसपास फैली, वैसे ही भक्तों का तांता लग गया।
 क्या कहते हैं एक्सपर्ट
  इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर दीनानाथ शुक्ल दीन का कहना है – हनुमान जी की आंख से आंसू गिरने का कारण मौसम का अंतर हो सकता है।
बॉटनी डिपार्टमेंट के एचओडी रह चुके शुक्ल ने बताया – मूर्ति धातु या फिर पत्थर की है। इन चीजों पर भी वेदर चेंज का इफेक्ट होता है।
 
दुखी हैं हनुमान जी
इलाके के सराफा व्यापारियों का मानना है कि हनुमान जी किसी बात से दुखी हैं।
इसी वजह से उनकी आंख से आंसू निकल रहे हैं।
सुबह 7 बजे से शुरू ये प्रकरण अभी भी जारी है। लोगो की भीड़ बढ़ती जा रही है।
क्या कहते हैं महंत
 बाघंबरी अखाड़ा के संत एव बंधवा स्थित बड़े हनुमान जी मंदिर के महंत स्वामी आनंद गिरी जी इस घटना को शुभ नहीं मानते।
उन्होंने बताया कि यह घटना आस-पास के लोगों के लिए ठीक नहीं है।
“भगवान जब नाराज होते हैं या दुखी होते हैं तो उनकी आंखों से आंसू निकलते हैं।
5 साल पहले रोए थे हनुमान, हुई थी पुजारी की मौत
 ऐसी घटना 2012 में बंधवा स्थित लेटे हनुमान मंदिर में भी हो चुकी है।
मंदिर के एक पुजारी धीरेंद्र शुक्ला की मौत हो गई थी।
महंत ने बताया, “जब उसकी चिता जल रही थी, उस वक्त हनुमान जी के आंखों से आंसू बह रहे थे।”
तब हमारे महाराज जी ने बताया था की पुजारी की मौत से हनुमान जी दुखी हैं। इसीलिए उनकी आंखों से आंसू बह रहे हैं।”
 मीरगंज इलाक़े में स्थित हनुमान मंदिर में आज जो कुछ भी हो रहा है।
Leave A Reply

Your email address will not be published.