बॉलीवुड की इन 29 फ़िल्मों का रिलीज़ होने का सपना, सपना ही रह गया

बॉलीवुड में हर साल सैकड़ों फ़िल्में बनती हैं लेकिन उससे कई ज़्यादा प्लान होती हैं, शूटिंग के लिए तैयार भी हो जाती हैं, लेकिन कुछ ऐसा होता है कि ये फ़िल्में बड़े परदे तक नहीं पहुंच पाती हैं. इनमें छुपी हैं वो परफॉरमेंस जो कभी कोई नहीं देख पायेगा, वो एक्टर जो शायद इन फ़िल्मों की वजह से स्टार्स बन जाते और वो नग़मे जो कानों तक पहुंचने से पहले ही शांत हो गए. नज़र डालते हैं ऐसी कुछ फ़िल्मों पर.

1. लव एंड गॉड (1962)

मुग़ल-ऐ-आज़म के बाद के.आसिफ़ ने लैला-मजनू की कहानी पर ये फ़िल्म बनाई थी. लेकिन गुरु दत्त की मृत्यु के बाद इस फ़िल्म को संजीव कुमार के साथ फिर से शूट किया गया. दुर्भाग्यवश 1971 में आसिफ़ के इंतेक़ाल के बाद 1985 में इस फ़िल्म को के.सी. बोकाडिया और उनकी पत्नी से रिलीज़ किया.

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.