पूजी जाती है बिना सिर की देवी, लोग मांगते है मन्नतें

भारत धर्म प्रधान देश है यहाँ  देवी देवता पूजे जाते है। सबसे ज्यादा धार्मिक लोग भारत में ही है यहाँ की धरती को देवी-देवताओं की पावन भूमि माना जाता है देश के साथ-साथ विदेशो से भी पर्यटक भारत घुमने आते है और खासकर धार्मिक स्थानों पर सबसे ज्यादा लोग देखे जाते है।
चमत्कारी है धार्मिक स्थल:
 यहाँ पर हर रोज कोई न कोई नया चमत्कार होता रहता है यहाँ के मंदिरों से जुड़े ऐसे हजारो किस्से है जिन्हें सुनकर कोई भी इन्हें देखने के लिए उत्साहित हो जाता है इनमे से एक मंदिर के बारे में आज हम आपको यहाँ पर बताने जा रहे है जिसे पढ़कर आपको बेहद हैरानी होगी।
 
छित्रमस्तिके मंदिर:
 झारखंड की राजधानी रांची से लगभग 80 किलोमीटर की दूरी पर रजरप्पा नाम की जगह है इस स्थान की पहचान धार्मिक महत्व के कारण बहुत प्रसिद्ध है क्यूंकि यहाँ पे एक मंदिर है जिसका नाम छित्रमस्तिके मंदिर है जोकि शक्तिपीठ के रूप में रांची की पावन धरती में बहुत विख्यात है।
 
पूजी जाती है बिना सिर वाली देवी:
 वैसे तो असम में माँ कामख्या मंदिर को सबसे बड़ी शक्तिपीठ माना जाता है और इसके साथ ही दुनिया की दुसरे नंबर पर शक्तिपीठ रजरप्पा छित्रमस्तिके मंदिर है आपको जानकार और भी ज्यादा हैरानी होगी कि यहाँ भक्त बिना सिर वाली देवी मां की पूजा करते है ऐसा माना जाता है कि मातारानी अपने सभी भक्तो की मनोकामना पूरी करती है।
Leave A Reply

Your email address will not be published.