विजय रूपाणी के बारे में कुछ रोचक तथ्य

विजय रुपाणी गुजरात के मुख्यमंत्री है और भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं | उन्होंने आज ११ सितम्बर को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया जिससे की पुरे राजनितिक गलियारों में हलचल मच गयी है | विजय रुपानी 7 अगस्त 2016 से 11 सितम्बर तक गुजरात के मुख्यमंत्री रहे | और आज उनका 5 वर्ष का कार्यकाल पूर्ण होने के कारन उन्होंने इस्तीफा दे दिया , जिसके कारण पुरे इंटरनेट में लोग अलग अलग राय कायम कर रहे हैं |

मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते हुए

आज हम अपको विजय रुपाणी के जीवन से जुड़े कुछ रोचक तथ्य बताने जा रहे हैं, आशा है ये तथ्य आपको बहुत पसंद आएंगे

आपकी जानकारी के लिए बता दें विजय रुपाणी डेली दो घंटे जॉगिंग करते हैं। और वे राजकोट वॉकिंग क्लब के अध्यक्ष भी हैं।

बहुत कम लोग जानते होंगे कि देश में इमरजेंसी के दौरान रुपाणी भावनगर और भुज की जेल में रह चुके हैं। विजय रुपाणी ने एक बार मीडिया को बताया था कि उन्होंने जेल में रहते हुए ही स्वाधीनता की कीमत जानी। वे गुजरात के अकेले ऐसे बीजेपी मंत्री हैं, जो इमरजेंसी में जेल जा चुके हैं। 1971 से संघ से जुड़े रहने वाले रुपाणी का पीएम नरेंद्र मोदी से परिचय तभी से है।

बीए, एलएलबी की पढ़ाई करने वाले रुपाणी ने पहले अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के साथ छात्र राजनीति में एंट्री की और फिर बाद में संघ से जुड़े। वे राजकोट में लंबे समय तक मेयर भी रहे। 2006 में बीजेपी ने उन्हें राज्यसभा भेजा। नरेंद्र मोदी और अमित शाह की पसंद पर उन्हें गुजरात बीजेपी का प्रदेश अध्यक्ष भी बनाया गया था। 2014 में उन्होंने पहली बार विधानसभा चुनाव जीता।

Leave A Reply

Your email address will not be published.