अनोखी दुनिया की ये अनोखी बातें,क्या आप जानते हैं!

ब्रह्माण्ड में पृथ्वी  सबसे सुंदर और अनोखा ग्रह माना जाता है.ये एक मात्र ग्रह है, जहाँ जल, जीवन, जन्म और प्राकृतिक चीजें मौजूद है.लेकिन क्या आपने सोचा है कि इसी पृथ्वी पर कुछ ऐसी चीजें हैं, जिनसे हम अनजान है.

आइए जानते हैं इन अनोखी दुनिया के बारे में.

अंतरिक्ष की बाते. 

अंतरिक्ष की दुनिया भी एक अनोखी दुनिया है.

सूर्य का व्यास  पृथ्वी से लगभग 109 गुना अधिक है. सूर्य का आकार एक संतरे  के बराबर है. पृथ्वी का आकार  धूल के कण सामान होगा. सूर्य भी आसमान का एक  तारा ही है, जो पृथ्वी से  8 मि. 18 प्रकाश सेकेंड दूरी पर है. सूर्य पृथ्वी के ज्यादा नजदीक होने से अन्य तारों से  ज्यादा प्रकाशमान और शक्तिशाली दिखता है.

पृथ्वी से तारों तक  की दुरी को  सामान्य  किलोमीटर या इकाइयों में बता पाना संभव नहीं. इसलिए इसका मापन  विशेष प्रकार के  पैमाने से किया जाता है, जिसका नाम प्रकाश वर्ष रखा गया है. प्रकाश की किरणें एक  वर्ष में  जितनी दूरी तय करती हैं, उसे एक प्रकाश वर्ष कहते हैं.

प्रौक्सिमा-सेंटौरी तारा सूर्य के बाद दुसरे नंबर पर पृथ्वी के नजदीक है. व्याध या लुब्धक आसमान  में सबसे चमकीला तारा है. इन तारों की दूरी पारसेक से मापी जाती है. एक पारसेक में 3.26 प्रकाश वर्षों के सामान होता है.

आसमान के सब  तारे  अलग अलग रंगों के होते  हैं. लेकिन हमे एक रंग के ही दिखाई देते है. जबकि स्पेक्ट्रमदर्शी से सब भिन्न भिन्न रंग के  दिखाई देते है, जो तापमान में परिवर्तन के कारण एक रंग के दिखते है.

सूर्य  भी पीले रंग और G वर्ग का  एक तारा है.

हावर्ड वेधशाला  में वैज्ञानिकों ने उन्नीसवी सदी में तारों को वर्गीकृत किया गया और तारों को  O, B, A, F, G, K, M  नाम दिया जिसके अनुसार सूर्य को G वर्ग का तारा कहा गया.

यूरेनस ग्रह में 2 मौसम सर्दी और गर्मी रहती  हैं, और एक मौसम 42 वर्ष  तक बना  रहता है.

प्लूटो ग्रह का नाम एक 11 वर्ष की बच्ची जो इंग्लैंड से थी, उसके नाम पर 1930  में  रखा गया.

Leave A Reply

Your email address will not be published.